Blogging, Self Improvement

Personality Development व्यक्तित्व विकास Part- 2

Last Updated on January 31, 2021 by Manoranjan Pandey

Personality Development व्यक्तित्व विकास

सफलता कि कल्पना करें Visualize your Success: Personality Development: जब आप अपने बड़े लक्ष्य Goal के बारे में सोचते हैं या एक उपलब्धि जिसे आप आगे तक ले जाना चाहते हैं तो उन बाधाओं पर विचार करना सामान्य सी बात है जिसका आपको जीवन में सामना करना पडता है. समस्या ये है कि हम इन बधाओ को अपने सपनों से आगे निकलने देते, और यह हमें प्रगति करने से रोकता है. लेकिन बाधाओं को बनाने कि बजाये, जीत की या सफलता की कल्पना करें.

अपने सुधार को निरंतर मांपे Measure your Improvement for Personality Development 

अपनी प्रगति को मापना या मूल्यांकन करना किसी भी लक्ष्य को प्राप्त करने का एक महत्वपूर्ण जरिया है. यह आपको track पर बने रहने में मदद कर सकता है और आपको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है.
आप अपनी प्रगति का ट्रैक Track रखे बिना आप यह भी नहीं जानते कि आप में सुधार हो भी रहा है या नहीं.
कभी कभी अपने आप से पूछें कि क्या आप अपने व्यक्तिगत/Personal और Professional Life में औरो के लिए मूल्य प्रदान कर रहे हैं?

7. समय का सदुपयोग करें Make good use of your time. 

समय का बुद्धिमानी पूर्वक सदुपयोग करना बहुत ही महत्वपूर्ण है. यदि आप खुद को कुछ खाली समय के विलासिता में पाते हैं, तो इसे Television के सामने बैठकर बर्बाद ना करें. इसके बजाए, अपना समय प्रभावी रूप से Manage करें ताकि आप अपने लक्षयों कि प्राप्ति कर सकें और अपने लिए उचित मार्ग बना सकें.
हरएक दिन के लिए अपने सबसे महत्वपूर्ण कार्यों कि list सूची बनायें और उन्हें निर्धारित करने के लिए हर सुबह कुछ समय निकालें, और यह सुनिश्चित करने के लिए एक योजना Plan बनायें कि वे पुरा हो जाएं.

8. नये कौशल सीखें Learn new Skills. 

Personality development
Learn New Skills

जब आप उन चीजों पर विचार करना बंद कर देते हैं जो आप हर रोज़ करते हैं, तो आप संभवतः नये कौशल सिखने के लिए नहीं सोचते हैं. व्यस्त जीवनशैली में नयी चीजों को सीखना मुश्किल लगता है, लेकिन आप थोड़े से सकारात्मक प्रयास और दृढ़ निश्चय से सीखना जारी रख सकते हैं.  इस बदलाव भरी संसार में रहने के लिए हमें जीवन भर सीखना जारी रखना होगा. यदि आज के समय में आप नये कौशल सीखना छोड़ देते हैं, तो आप वास्तव में पीछे छूट जाते हैं जबकि बाकी दुनियां आपसे आगे निकल जाती है.

शारीरिक व्यवहार Body language in Personality development

9. नियमित व्यायाम करें Exercise regularly.  

Personality development Body language
Body language

 

आजकल के भाग दौड़ भरी जीवन शैली में या यु कहे कि Corporate world में आपका अधिकांश समय बैठे हुए हीं बीतता है, खासकर ऑफिस जॉब में ये सामान्य सी बात है. हमारे शरीर कि रचना ऐसी नहीं है कि हम पुरे दिन बैठे रहे, इसलिए आपके समग्र सवास्थ health के लिए जितना संभव हो सके, उतना व्यायाम करना चाहिए. Exercise करने वालों को एक्सरसाइज ना करने वालों कि तुलना में अधिक healthy पाया गया है. नियमित तौर पर एक्सरसाइज या व्यायाम करने से हमारा तन तो तरोताज़ा रहता हीं है, बल्कि पुरे Body को आवश्यक Energy मिलती है जिससे Blood Circulation भी तेज़ रहता है. अतः काम के अलावा exercise करना महत्वपूर्ण है, इसलिए दिन में कम से कम 30 minutes अपने Body/शरीर को अवश्य दें.

10. संयमित एवं ध्यान से खाएं Eat mindfully for Personality development

स्वस्थ जीवन एवं स्वस्थ शरीर के लिए संयमित खान-पान अति आवश्यक है. अधिकतम बीमारियों का मुख्य कारण अनियमित दिनचर्या एवं खान-पान में लापरवाही है. कहा जाता है कि संयमित खान-पान एवं व्यायाम सुरक्षित जीवन का आधार है. आप क्या खाते हैं और कब खाते हैं, इसका ध्यान रखना भी आवश्यक है. जब आपका पाचनतंत्र प्रभावी रूप से काम करेगा तब ही स्वस्थ जीवन जी सकते हैं .

11. पर्याप्त मात्रा में पानी पियें Drink enough water. 

ज्यादातर लोग पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन नहीं करते है. हर दिन पर्याप्त मात्रा में पानी पीना आपके स्वास्थ्य, fitness, wait loss, Mood, mental strength यहाँ तक कि आपके ऊर्जा Energy level में सुधार करने में मदद करता है. जितना पानी शरीर से हम रोज़ मूत्र या पसीने के रूप में बाहर  निकालते हैं, उससे दो गुना पानी हमें पिने की आवश्यकता होती है. पानी पिने से आपके Fluid level को बनाये रखने में मदद मिलता है.
यदि आपको सादे पानी से संतुष्टि नहीं मिलता तो आप विकल्प के तौर पर निम्बू पानी का प्रयोग कर सकते हैं.

12. ध्यानपूर्वक सुनने का अभ्यास करें Practice mindful listening is art of Personality Development

Personality Development
Listening Carefully

ध्यानपूर्वक सुनना भी एक कला है और जीवन में सफल होने के लिए इस कला को सीखना महत्वपूर्ण है. ध्यानपूर्वक सुनना आपको अपने अंदर चल रहे विचारों को नियंत्रित करने में मदद करती है ताकि जो संदेह आपके साथ साझा किया जा रहा हो उसे आप सुन सके एवं Speaker को आप समझ सकें.
यह आदत आपको उन लोगों के साथ गहरे सम्बन्ध बनाने में मदद मिलता है जिनसे आप मिलते हैं और यह आपको अपने आप में बेहतर महसूस कराएगा. कहते हैं की एक अच्छा श्रोता ही अच्छा वक्ता बन सकता है, अतः जबतक आप ठीक से सुनेंगे नहीं, आप ठीक से बोल भी नहीं पाएंगे.

13. कृतज्ञता का अभ्यास करें दो Practice Gratitude. 

हर दिन सुबह उठते ही क्या हम ईश्वर को धन्यवाद देते हैं की ईश्वर ने हमें जिंदगी का एक और खूबसूरत दिन दिया. क्या हम अपने माता पिता को धन्यवाद देते हैं कि उन्होंने ने हमारे लिए इतना कुछ किया. जब आप आभारी होंगे तो आपका मस्तिष्क और अधिक त्यागी, उदार, एवं उपकारी होगा, जिससे आपका यश बढेगा और संसार में आपकी चर्चा होगी. आभार वह शक्ति है जो हमें नकारात्मक से सकारात्मक, अशांति से शांति एवं नफरत से प्रेम कि ओर ले जाता है.

14. सकारात्मक दृष्टिकोण रखें Have a Positive Attitude. 

सकारात्मक दृष्टिकोण आपके जीवन में एक positive energy का संचार करता है और आपके जीवन में सफलता एवं खुशियाँ लाता है. सकारात्मक दृष्टिकोण आपको कई तरह से help करता है, इसकी मदद से आप अपने अंदर कि Negativity को दूर भगाते है एवं आप अपने आप पर विश्वास करना सिख जाते हैं.

15. अपने आस पास साकारात्मक लोगों को रखें Surround yourself with positive people. 

जैसे कि पुरानी कहावत है, “जैसी संगत राखिये वैसे ही गुण आत” बुरे लोगों कि संगती से दूर रहें जो आपके जीवन में नाकारात्मकता ला सकते हैं. यह आपके वास्तविक जीवन और ऑनलाइन Life दोनों पर लागु होता है. सकारात्मक लोग आपको अपने जीवन के बारे में और अधिक सकारात्मक रहने में मदद करेंगे, और उनकी सकारात्मक ऊर्जा आपके जीवन को भी प्रभावित करता है.

16. क्षमा (माफ़) करना सीखें Learn to Forgive. 

जीवन में आगे बढ़ने के लिए माफ़ करना, क्षमा करना एवं बीती बातों को भूलना अति महत्वपूर्ण है, ताकि अपने मन का बोझ हल्का कर के आप एक स्वतंत्र जीवन जी सकें. आपको तकलीफ पहुँचाने वाले लोगों को क्षमा करना, एवं अपनी खुद कि कमियों के लिए खुद को क्षमा करना एक खुशनुमा, तनावरहित जीवन जीने कि ओर एक सकारात्मक कदम है.

17. थोड़ा मजाकिया अंदाज़ भी रखें, और हमेशा गंभीर मत बने रहें.

कोई भी व्यक्ति उबाऊ और गंभीर लोगों को पसंद नहीं करता है। हर कोई उस व्यक्ति की कंपनी का आनंद लेता है जो उन्हें हंसता है, जिससे उनका Stress Level थोड़ा घटता है। बस दूसरों को हंसाने के लिए किसी और की टांग न खीचें । वार्तालाप करते समय मज़ेदार जोक सुनाने का प्रयास करें, फिर देखना लोग स्वभाविक रूप से आपकी ओर आकर्षित होंगे।

Note:- व्यक्तित्व विकास एक व्यक्ति को सकारात्मक गुणों जैसे कि positive quality, punctuality, लचीला रवैया, सीखने कि इच्छा, Friendly Nature, दूसरों की मदद करने की उत्सुकता इत्यादि को अपने अंदर develop करने में मदद मिलता है.

आशा है कि आपको व्यक्तित्व विकास पर यह लेख Part- 2  आपको पसंद आया होगा। अपने विचारों, प्रतिक्रियाओं या सुझावों को साझा करें, जिन्हें हम इस व्यक्तित्व विकास लेख Part -2 में जोड़ सकते हैं 🙂 मुझे आपकी टिप्पणियां comments पढ़ना अच्छा लगेगा।

आपका बहुत बहुत धन्यवाद……

About Manoranjan Pandey

I am a professional Travel writer and Blogger.
View all posts by Manoranjan Pandey →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *