Digital Duniya, खबर काम की

Vishing क्या है ?। Voice phishing क्या है । साइबर ठगों के नए तरीके, ना करें ये गलतियां

Vishing क्या है

Last Updated on October 19, 2021 by Manoranjan Pandey

Vishing क्या है ?। Voice phishing क्या है । साइबर ठगों के नए तरीके, ना करें ये गलतियां

Vishing क्या है ? : क्या आपने कभी Vishing Word सूना है ? क्या आपको Vishing के बारे में पता है? अगर आपको Vishing के बारे में नहीं पता है तो हम आपको आज उसके बारे में बताने जा रहे हैं। इस पोस्ट में हम आपको यह भी बताएंगे कि किस प्रकार Vishing के जरिए एक Innocent  यूजर्स के साथ फ्रॉड किया जाता है। साथ ही हम आपको उससे बचाव का तरीका भी बताएंगे।

टेक्नोलॉजी के इस दौर में काफी सारे कार्य आसान हो गए हैं, जिन्हें करने के बारे में कभी सोचना भी नामुमकिन हुआ करता था वो आज हमारे एक फिंगर टिप से संभव है। मगर इसी बीच साइबर फ्रॉड की घटनाएं भी सामने आईं हैं जो कि लगातार बढ़ती जा रही हैं। साइबर क्रिमिनल धोखा देने और आपकी मेहनत की कमाई लूटने के लिए कई तरीकों का इस्तेमाल करते हैं। उन्हीं में से एक तरीका है Vishing . आज हम जानेगे Vishing kya hai ? Difference between Vishing and Phishing

Highlights

  • अभी हाल के दिनों में Vishing के माध्यम से धोखाधड़ी की घटनाओं में वृद्धि हुई है 
  • Vishing जैसे मामलों में कोई भी व्यक्ति आपको बैंक स्टाफ या अधिकारी के रूप में कॉल करता है और आपसे आपकी महतपूर्ण बैंकिंग या वित्तीय जानकारी हासिल करते हैं। 
  • इसतरह के किसी भी फ़ोन कॉल से सावधान रहने की आवश्यकता है, साथ ही यदि आप किसी तरह से धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं तो अपने बैंक को सूचित जरूर करें। 

Vishing क्या है और जानिये अपने पैसों को ऑनलाइन ठगी से कैसे बचा सकते हैं?

सबसे पहले हम आपको बता दें कि Phishing and Vishing (फिशिंग एंड विशिंग) दो अलग अलग वित्तीय धोखाधड़ी हैं. फ़िशिंग’ वो तरिका है जिसमें अपराधी ईमेल द्वारा लोगों को धोखा देते हैं, ठगते हैं या गुमराह करते हैं। जबकि ‘विशिंग’ फोन पर ही फिशिंग है जहां स्कैमर्स बैंक स्टाफ या अन्य वित्तीय सेवा कर्मचारियों के रूप में लोगों को निजी जानकारी साझा करने के लिए मनाने की कोशिश करते हैं। 

Vishing kya hai

ठगी करने के लिए विशिंग का कौन सा तरीका अपनाते हैं हैकर्स 

विशिंग एक ऐसा तरीका है, जिसमें जालसाज या हैककर्स फोन द्वारा आपकी जानकारियां हासिल करते हैं और आपका खाता खाली कर सकते हैं.

Vishing के जरिए फ्रॉड करने वाले लोग किसी को भी कॉल करके अपना शिकार बनाते है। ऐसे में बड़े चालाकी से लोगों की जरूरी और निजी जानकारियों की चोरी की जाती हैं यानी आपको बेवकूफ बनाकर, अपनी मीठी मीठी बातों और लालच में फंसाकर फ्रॉड का शिकार बनाया जाता है। चोरी होने वाली इन जानकारियों में आपकी बैंक यूजर आईडी, लॉगिन आईडी, पासवर्ड, OTP, यूनिक रजिस्ट्रेशन नंबर, कार्ड पिन, सीवीवी नंबर और डेट ऑफ बर्थ शामिल हैं। 

Vishing करने वाले बैंक अधिकारी बन आपको कॉल करते है  

जब Vishing की जाती है तो आपको फ्रॉड करने वाले लोग बैंक से संबंधित अधिकारी बन कर बात करते हैं। फ़ोन पर आपसे यह बोला जाता है कि आपका बैंक अकाउंट बंद होने वाला है या फिर कोई अन्य कमी है, जिसके चलते आपसे ये सब जानकारी मांगी जा रही है। आपको पूरी तरह डरा दिया जाता है, और आपको भी लगाने लगता है कि कही आपका अकाउंट बंद ना हो जाय। और घबराहट में आप भी बिना सोचे समझे वो सब जानकारी उनसे शेयर कर देते है।  बाद में उन जरूरी जानकारियों का इस्तेमाल आपके बैंक अकाउंट से पैसे चोरी करने के लिए होता है। 

 

Vishing क्या है? ये जानने के बाद अब ये सवाल है की इससे बचाव के लिए क्या करें

अगर आपको किसी अनजान नंबर से कॉल आता है तो उस दौरान आपसे किसी प्रकार की निजी जानकारी जैसे बैंक यूजर आईडी, लॉगइन आईडी, पासवर्ड, ओटीपी, यूनिक रजिस्ट्रेशन नंबर, कार्ड पिन, सीवीवी और आधार कार्ड आदि संवेदनशील दस्तावेजों के बारे में पूछा जाता है ,साथ ही ऐसी संदिग्ध कॉल में लोगों से उनका पहला और आखिर नाम पूछा जाता है, जिससे कि उनका काम आसान हो जाता है, तो आपको सावधान हो जाना चाहिए। इस प्रकार के किसी भी कॉल में आपको अपनी कोई भी जानकारी साझा नहीं करनी चाहिए। साथ ही इस तरह की कॉल के बारे में रिपोर्ट करनी चाहिए और फिर बैंक को इसकी जानकारी देनी चाहिए। वहीं, उसके तुरंत बाद ही आपको अपने बैंक अकाउंट के पैसों को चेक करना चाहिए। अगर आपको उसमें कोई कटौती लगती है तो आपको उसकी शिकायत बैंक में तुरंत ही करनी चाहिए। 

 

इन्हे भी पढ़िए 

कॉल करने वाले यदि बैंक डेबिट या क्रीडित कार्ड की बात करे तो हो जाए सावधान 

इस प्रकार के कॉल में धोखेबाज आपको कॉल करके विश्वास दिलाते हैं कि वो बैंकर बोल रहे हैं। इस तरह के कॉल को आप कुछ सावधानीपूर्वक तरीकों के साथ टेस्ट कर सकते हैं। 

  • आप कॉल करने वाले से पूछिए कि आपका (उसका नहीं) पहला या अंतिम नाम क्या है ? अगर वो असहज महसूस करता है तो समझिये कुछ गड़बड़ है।
  • आप अपना Address उसी व्यक्ति से पूछिए और कुछ इसी तरह के बुनियादी सवाल कर सकते हैं ।
  • हालांकि इन तरीको पर भी आप आँख बंद कर के विश्वास ना करें ।

साथ ही आपको यह मश्वरा भी दी जाती है कि आप फ़ोन कॉल पर Debit and credit card या Bank details उसके साथ शेयर ना करें। खासकर आपसे यदि व्यक्तिगत या बैंक खाते से सम्बंधित जानकारी मांगी जाय तो भूलकर भी ऐसे संवेदनशील जानकारी कि के साथ साझा ना करें । 

Vishing क्या है what is vishing

क्योकि बैंक के तरफ से कॉल में कभी भी आपसे संवेदनशील जानकारी जैसे – आपकी बैंक यूजर आईडी, लॉगिन आईडी, पासवर्ड, OTP, यूनिक रजिस्ट्रेशन नंबर, कार्ड पिन, सीवीवी नंबर और डेट ऑफ बर्थ इत्यादि नहीं माँगा जाता है। जबकि बैंक आपसे कुछ जानकारियों को बहुत जरुरी होने पर IVRS सिस्टम के माध्यम से दर्ज करने को कहा जाता है ना कि उन्हें बताने को। 

कभी भी कोई भी बैंक का कोई भी स्टाफ या अधिकारी आपसे CREDIT या DEBIT CARD नंबर नहीं मांगता है , ऐसा उनको बैंक से निर्देश होता है कि कोई भी बैंक का कर्मचारी किसी भी तरह का संवेदनशील जानकारी ग्राहक से ना पूछे । अगर आपसे ये जानकारी मांगी जाएगी तो वो एक आईवीआरएस (IVRS) सिस्टम पर होगा जो एक कंप्यूटर का काम है। CVV NUMBER कभी भी आईवीआरएस (IVRS) पर भी नहीं मांगा जाएगा, जब तक कोई खरीदारी नहीं करनी है। 

ऑनलाइन शॉपिंग और होम डिलीवरी के नाम पर ठगी

साइबर क्राइम करने वालों ने बैंक और ऑनलाइन शॉपिंग पोर्टल से मिलती-जुलती कई वेबसाइट बनाकर भी लोगों को ठगने का खूब काम किया।

घर बैठे काम करवाने के नाम पर ले लिए पैसे 

लॉकडाउन के कारण कई लोग बेरोजगार हुए हैं और लाखों लोगों ने अपनी नौकरियां गवाई हैं। साइबर एक्सपर्ट बताते हैं कि घर बैठे काम करने के नाम पर देश भर में खूब धोखाधड़ी हो रही है। यहाँ तक की काम करने नाम पर लोगों से एडवांस पैसे लिए जा रहे हैं। वैसे तो यह तरीका पहले से ही चलन में है, लेकिन इन दिनों लोखड़ौन में काफी बढ़ गया है। इसके अलावा लोगों को सरकारी एजेंसियों के नाम पर ईमेल भेजे जा रहे हैं।  

 

इन्हे भी पढ़िए 

Conclusion:-  दोस्तों आपलोगो के स्नेह और सहयोग से हमलोग आपके लिए विभिन्न विषयों पर ब्लॉग लिखने में आज समर्थ हैं। उम्मीद करते हैं कि आपको याग लेख विशिंग क्या है जरूर पसंद आएगा । कृपया कमेंट के माध्यम से अपना वहुमूल्य सुझाव अवश्य दें , जिससे से हम आपके लिए आगे भी अच्छे से अच्छा विषय ला सकें ।

धन्यवाद 

Tagged , , , ,

About Manoranjan Pandey

I am a professional Travel writer and Blogger.
View all posts by Manoranjan Pandey →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *